ब्लॉगिंग की छोटी-छोटी बातें

ब्लॉगिंग आज कई लोगों के लिए एक शौक या फैशन बन गया है. कई लोग वाकई professional तरीके से blogging करते हैं. ब्लॉगिंग उनके लिए महज एक शौक की चीज न होकर एक profession होता है और वो blogging में वो तमाम standards को follow करते हैं जो एक successful blogger के लिए जरुरी होते हैं. सही भी है जब कोई काम कर ही रहे हैं तो क्यों न उसे सही तरीके से ही किया जाये. आखिर हम जो भी work करते हैं उससे हमारी पहिचान ही तो बनती है. तो friends आज की blog पोस्ट में मैं आज कुछ ऐसी ही छोटी-छोटी बातें आप के साथ कर रहा हूँ  जिन्हें हम blogging की छोटी-छोटी mistakes कहें या ब्लॉगिंग की छोटी-छोटी बातें कहें जिन्हें अक्सर ब्लॉगर नजरअंदाज कर जाते हैं तो शायद ज्यादा ठीक रहेगा.


Blogging Template एवं blogging platform:

जिस प्रकार हम अपनी life में कोइ काम करने के लिए अपना एक platform या स्थान तलाश करते हैं  और अपने काम के लिए कोई उचित माध्यम तलाश करते हैं इसी प्रकार ब्लॉगिंग के लिए भी एक उचित प्लेटफार्म और template निश्चित करने की आवश्यकता होती है. आज कल कई blogging platform और कई blogging template उपलब्ध हैं. हमें अपनी जरुरत और अपने blogging niche के अनुसार उपयुक्त माध्यम का चुनाव शुरू में ही कर लेना चाहिए. Blogger और Wordpress आज के समय में दो बहुत ही लोकप्रिय एवं जाने माने blogging platform हैं. हम यह कह सकते हैं कि ये दोनों platform beginners के लिए बहुत अच्छे हैं. Blogging की बारीकियां सीखने के बाद बाद में चाहें तो किसी अन्य platform पर काम करना ज्यादा ठीक रहेगा. ब्लॉगर एवं वर्डप्रेस free hosting जो देते हैं.
Blogger पर कई प्रकार के free template उपलब्ध होते हैं. आवश्यकता के अनुसार आप इन्हें customize भी कर सकते हैं.

Background Color:

Blog के लिए सही background color का चुनाव करना बहुत जरुरी होता है. ज्यादातर white background बहुत पसंद किया जाता है. White background में readers को content पढने में ज्यादा सहूलियत होती है. मैंने अपने ब्लॉग एजुकेशन टुडे एवं हिंदी ब्लॉग में पहले background पर अधिक ध्यान नहीं दिया था लेकिन बाद में मुझे यह चीज समझ में आई और मैंने अपने blogs के backgrounds को change किया और readers के द्वारा इसे पसंद किया गया.
E-mail Subscription:
Blog tips in Hindi, ब्लॉगिंग टिप्स इन हिंदीअपने ब्लॉग पर e-mail द्वारा ब्लॉग पढने की सुविधा वाला badge लगाना भी बहुत काम की चीज है. बहुत से लोग ब्लॉग के URL को याद नहीं रख पाते और ब्लॉग के new posts को पढने के लिए ब्लॉग को ई-मेल द्वारा subscribe कर लेते हैं जिससे उन्हें अपने पसंदीदा ब्लॉग की new पोस्ट्स पढने को मिलती रहें. कई नए ब्लॉगर इस badge को नजरअंदाज कर देते हैं. अगर आप चाहते हैं की आप के ब्लॉग को ज्यादा से ज्यादा लोग पढ़ें तो e-mail द्वारा सदस्यता का विकल्प आपको अपने ब्लॉग पर देना उचित रहेगा.
Mobile Site:
Blogger पर blog के लिए desktop site एवं mobile site दोनों प्रकार के template को choose करने की सुविधा रहती है. आप अपनी site को desktop के साथ-साथ मोबाइल पर किस प्रकार दिखाना चाहते हैं इस पर ध्यान देना भी जरुरी रहता है. मोबाइल version पर background कलर पर ध्यान देना जरुरी होता है ताकि readers को content पढने में सहूलियत रहे. कई ब्लॉगर simple template वाले mobile version का use करते हैं और white background को prefer करते हैं.
ब्लॉगिंग एक ऐसी विधा है जिसमें निरंतर कुछ न कुछ नया करने की गुंजाईश रहती है. क्या आप अपने ब्लॉगिंग के अनुभव हमारे साथ साझा करना चाहेंगे?


Friends, इस पोस्ट में व्यक्त विचार मेरे अपने है. ब्लॉगिंग के बारे में मेरी  इस Hindi Post के बारे में आपके क्या विचार हैं, अपने comments के द्वारा अवगत कराएं.


Other Posts on this blog:

क्या हिंदी ब्लॉगिंग के अच्छे दिन आने वाले हैं?
अनमोल विचारों की पूँजी
The world outside the cyberspace
Differences between writing and blogging

लेबल: , , ,