किसी ब्लॉग में ब्रोकन लिंक क्या होतीं है?

Broken links are generally the links that are not working now. There may be various reasons for broken links. In this post we will talk about broken links in Hindi.

अक्सर हमारे साथ ऐसा कई बार होता है कि हमारे किसी दोस्त या परिचित ने कभी हमें अपना मोबाइल नंबर दिया और उसे हमने अपनी डायरी या मोबाइल में नोट कर लिया और कुछ दिनों बाद हम जब उस नंबर पर फोन लगाते हैं तो पता चलता है कि वो नंबर या तो गलत है या फिर वो किसी अन्य व्यक्ति के नाम हो गया. इस स्थिति में हमें बड़ी गुस्सा आती है. ब्लागिंग में भी कई बार ऐसा होता है जब हम किसी ब्लॉग या वेबसाइट की किसी लिंक पर क्लिक करते हैं तो पता चलता है कि वो लिंक या तो खुल नहीं रही या फिर उस लिंक पर ERROR का मेसेज आता है, हमें ये संदेश लिखा मिलता है कि 'क्षमा करें कि आप जिस पेज को खोल रहे हैं वो इस ब्लाग में उपलब्ध नहीं है.' ब्लागिंग की भाषा में इसे Broken Links (टूटी लिंक) कहा जाता है. जाहिर सी बात है ऐसा होने पर हमारा समय तो बर्बाद होता ही है साथ ही हमारा मकसद भी अधूरा रह जाता है.


Broken links या टूटी हुई लिंक्स अक्सर ब्लागरों द्वारा किसी वेब पेज का संपादन(editing) करने या फिर कई बार ब्लॉग का sub domain बदलने या manual editing के कारण बनती हैं. किसी वेब पेज का यूआरएल बदल जाता है और ब्लागर का उस पर ध्यान नहीं जाता, ब्लागर उस लिंक को सुधार नहीं पाते और वो उस लिंक का ब्लॉग में या social networking sites पर प्रमोट करता रहता है. बाद में जब कोई user उस लिंक पर क्लिक करता है तो उसे निराशा लगती है.
अपने ब्लॉग या वेबसाइट में कितनी ब्रोकन लिंक्स हैं इन्हें समय-समय पर check करते रहना जरुरी है. इसके बारे में विस्तार से अगली पोस्ट में बताया जाएगा.

READ ALSO:
  1. ब्लॉग पेज का महत्व और SEO TIPS हिंदी में
  2. गूगल एडसेंस अब हिंदी में भी
  3. क्या हिंदी ब्लागिंग के अच्छे दिन आने वाले हैं?
  4. अब गूगल ने बनाया हिंदी समूह

लेबल: , , ,