बेहतरीन शायरी (PART-4)

2 Line Khubsurat Shayary in Hindi


ख्वाहिशें: (Khwahishen-Shayary in Hindi)

माना कि हार हाल तुझे खुश देखना मेरी जिंदगी की ख्वाहिश है
मगर ये ख्वाहिशें भी तेरे दम पे हैं.

मकसद: (Maksad-Shayary in Hindi)

जिंदगी में किसी को पाना ही असली मकसद नहीं होता,
किसी के साथ चंद लम्हें भी बहुत कीमती होते हैं.

तारीफ: (Tarif-Shayary in Hindi)

तारीफ तेरी
कर के क्या गुनाह किया मैंने?
तूने भी तो अपनी तारीफ सुनना चाही थी...!!

दुआ: (Dua-Shayary in Hindi)

खुश रहने की दुआ भी न दूँ, ये दुआ तूने मांगी....!!
बद किस्मती देख मेरी, मैंने ये दुआ कुबूल कर ली..!!!

http://www.hindisuccess.com/2015/12/2-line-khubsurat-shayary-in-hindi.html

सुकून: (Sukun-Shayary in Hindi)

किसी को इस तरह यूँ सजा नहीं देते जालिम!
खुद से पूछ ले कि तुझे सुकून क्या मिला...?

Read More Shayari in Hindi:

  1. बेहतरीन शायरी (PART-1)
  2. बेहतरीन शायरी (PART-2)
  3. बेहतरीन शायरी (PART-4)


लेबल: